Weight Loss Stretching poseयोग हमें उन चीजों को ठीक करना सिखाता है जिसे सहा नहीं जा सकता और उन चीजों को सहना सिखाता है जिन्हे ठीक नहीं किया जा सकता।

Read more...

How to avoid negative thinking

एक ही चीज जो सारा दिन चल रही है वो है Thinking…
लेकिन हम कहते हैं कि सोच आ गई, हम यह नहीं कहते कि मैंने क्रिएट की।
जैसे वह सोच बाहर से आई है लेकिन ध्यान दीजिए वह सोच बाहर से नहीं, भीतर से आती है बस इसकी डायरेक्शन सही होनी चाहिए। इसीलिए मन को जानना समझना बहुत इंपॉर्टेंट है, क्योंकि मन ही हमारे जीवन की फाउंडेशन है। फाउंडेशन जितनी मजबूत होगी उतना ही हम सुखद जीवन जी पाएंगे… नहीं तो कोई भी हमें हिलाकर जा सकता है। शरीर, परिवार, प्रोफेशन और एक दूसरे को संतुष्ट करने के लिए हम कितनी मेहनत करते हैं, कितनी हम शरीर की देखभाल करते हैं, लेकिन फिर भी शरीर में कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ दर्द हो ही जाता है। और रिश्तो में भी कभी कोई, कभी कोई, नाराज रहता ही है, और कभी कोई ऐसा कर देता है जो हमने कभी सोचा भी नहीं होता। हमारे किसी भी काम से कोई खुश नहीं रह सकता.. ऐसा लगता है, यहां कुछ भी स्थिर नहीं है लेकिन एक चीज है, भीतर में, अंतस में , जो हमेशा स्थिर है और हैप्पीनेस में है, वह है हमारा अस्तित्व हमारी एक्जिस्टेंस इसी को जानने के लिए हम भगवत गीता का अभ्यास कर रहे हैं।

Vol 248 मैं अर्जुन का बहुत प्यारा प्रश्न है, भगवान श्री कृष्णा से… अर्जुन कह रहे हैं, ऐसा साधक जिसे श्रद्धा तो है, लेकिन संयम ही नहीं है और समाधि में जाने से पहले ही जिसका मन विचलित हो जाता है ऐसा साधक किस गति को प्राप्त होता है….
और यह प्रश्न हम सभी का होता है। हमें श्रद्धा तो पूरी है अंतस धारा पर… लेकिन जब संयम की बात आती है कि क्या खाना है, क्या बोलना है, क्या सोचना है हम निर्णय नहीं ले पाते। उस समय पर हमें क्या करना है भगवान श्रीकृष्ण इस वॉल्यूम में यही बता रहे हैं।
On Namah🙏

Connect us YouTube Channel

Antas Yog by Indu Jain
Om Guruve Namah

Read more...

थायराइड में भूल से भी नहीं खाएं ये चीजें …. जाने थायराइड में क्या खाएं ?

सावधान हो जाएं अगर आपके शरीर का वजन अचानक बढ़ जाता है। और उससे आपको अपने शरीर में सुस्ती महसूस होने लगती हैं। आपके शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है। पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं, लगातार कॉन्स्टिपेशन की शिकायत रहती है‌ चेहरे और आंखों पर सूजन आ जाती है तो समझ जाइए कि आपको कहीं थायराइड की प्रॉब्लम तो नहीं और यह बीमारी ज्यादातर 30 से 60 साल की महिलाओं में अधिक होती हैं।

आजकल सुनने में आता है कि थायराइड की परेशानी बहुत ज्यादा फैल रही है। अगर आप भी थायराइड से परेशान हैं, तो सबसे पहले अपनी डाइट सही कीजिए। वास्तव में सही डाइट लेने पर थायराइड की बीमारी को आसानी से काबू किया जा सकता है।

हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है जिसमें कहा गया है, कि देश में हर दसवां व्यक्ति थायराइड का शिकार हो रहा है। खासतौर से महिलाओं में थायराइड के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। थायराइड की वजह से ही अस्थमा, कोलेस्ट्रॉल की समस्या, डिप्रेशन, डायबिटीज इनसोमनीया और दिल की बीमारियों का खतरा तेजी से बढ़ रहा है।

अगर आपको थायराइड की परेशानी है, तो आपको क्या खाना चाहिए, क्या नहीं खाना चाहिए। और हमारी डाइट में क्या क्या चीजें होनी चाहिए, जिससे हम थायराइड से बच सकते हैं, यह जान लेना बहुत जरूरी है।

इस बीमारी का मुख्य कारण है पैक्ड फूड और प्रोसैस्ड फूड की अधिकता। इस फूड को खाने का मतलब है जो आपके किचन में ताजा ताजा नहीं बना, या मार्केट में जो भी खाने पीने वाली चीजें होती हैं, उन्हें पैक्ड फूड कहा जाता है जैसे आपने चिप्स, मूंगफली, पेस्ट्री, केक बिस्किट, पिज़्ज़ा, पास्ता खा लिया। हमारी डाइट में यह चीजें इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि थायराइड की परेशानी आजकल बहुत ज्यादा देखने को मिल रही है।

अगर आप अपनी हेल्थ को लेकर अवेयर है तो थायराइड की प्रॉब्लम को स्टेबल डाइट से ही कंट्रोल कर सकते हैं। कई बार ऐसा होता है कि जो चीजें पौष्टिक होती है लेकिन वह थायराइड के मरीजों को नहीं खानी होती तो आज हम डाइट की पूरी जानकारी देंगे अगर आपको मोटापे वाला हाइपो थायराइड है तो आपको अपनी डाइट में यह चीजें नहीं लेनी है।

  • बंध गोभी, फूल गोभी, गांठ गोभी, और शलगम यह चार सब्जियां अगर आपको थायराइड की प्रॉब्लम है, तो अपनी डाइट में नहीं लेनी।
  • अगर आप सोयाबीन या सोया प्रोडक्ट का अधिक प्रयोग करते हैं, तो इनका प्रयोग कम कर दीजिए।
  • आपको आपको अपनी डाइट में चाय कॉफी कोल्ड ड्रिंक चॉकलेट का प्रयोग कम से कम करना है
  • आपको आपको अपनी डाइट में सफेद चावल और सफेद ब्रेड का प्रयोग भी नहीं करना है।
  • डिब्बाबंद चीजों का कम से कम प्रयोग करना है चाहे वह बिस्किट है, नमकीन है,या सॉस है।
  • स्वीट पोटैटो, पेस्ट्री, केक, मूंगफली, बाजरा इन चीजों का प्रयोग भी कम करना है।

हाइपोथायराइड की प्रॉब्लम में थायराइड ग्लैंड सक्रिय नहीं होती। जिससे शरीर में जरूरत के मुताबिक t3 t4 नॉरमल नहीं पहुंच पाता इसकी वजह से शरीर का वजन अचानक बढ़ जाता है। और इसकी पहचान है कि अगर शरीर में सुस्ती बहुत रहती है, या आपको अनियमित पीरियड्स आते हैं, तो सावधान हो जाइए।

जानिए आपको थायराइड में क्या खाना है ?......

थायराइड की बीमारी से परेशान लोगों को आयोडीन युक्त भोजन लेना चाहिए

  • भोजन भोजन में हरी सब्जियां और साबुत अनाज को अवश्य शामिल करें।
  • ऑलिव ऑलिव ऑयल और नारियल का तेल यूज़ करें
  • फलों में जामुन स्ट्रौबरी केला संतरा भरपूर मात्रा में लें।
  • टोंड दूध और उस से बनी हुई चीजें जैसे दही पनीर आदि खाएं।
  • ड्राई फ्रूट्स में अखरोट और बादाम और खरबूजे के बीज भी खा सकते हैं। इनको खाने से थायराइड के फंक्शन में मदद मिलती है
  • इसके अलावा प्रोटीन और फाइबर से भरपूर अनाज का सेवन करना चाहिए
  • थायराइड के मरीजों को वह आहार लेना चाहिए जिसमें आयरन और कॉपर की पर्याप्त मात्रा हो।
  • आप अपनी डाइट में काली मिर्च, हरी मिर्च, हल्दी, और दालचीनी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।
  • फलों में आप पाइन एप्पल, एप्पल, पपीता और कीवी ले सकते हैं यह चारों फल आपकी हाइपो थायराइड की प्रॉब्लम को दूर करने में आपकी हेल्प करेंगे।
  • सब्जियों में आप आलू, टमाटर, भिंडी, मशरूम, गाजर, शिमला मिर्च, कद्दू ले सकते हैं यह सारी सब्जियां आप बिना झिझक ले सकते हैं। इनमें कुछ ऐसे मिनरल्स होते हैं जो थायराइड की ग्लैंड को काम करने में हेल्पफुल होते हैं।
  • इसके अलावा अपनी डाइट में मैग्नीशियम और सेलेनियम जरूर लें यह दोनों ही काजू, बादाम, अखरोट, खरबूजे के बीज या चिया सीड्स में पाए जाते हैं इनको खाने से आपके थायराइड ग्लैंड को सपोर्ट मिलेगा। वह अपना काम अच्छे से कर पाएगी और आपको थायराइड की परेशानी कम होगी।
  • शाम की चाय की जगह आप ग्रीन टी भी ले सकते हैं।
  • अगर आप घरेलू उपचार पर जाना चाहते हैं तो अजवाइन को गुनगुने पानी में डालकर रात को रख दें और सुबह छानकर इस पानी को पी लीजिए।
  • साबुत धनिया के बीज का पानी भी पी सकते है।

Diet plan for thyroid patient

सुबह के समय 6:00 से 7:00 के बीच में आंवले का जूस या लौकी का जूस लें।

उसके पश्चात आपको नाश्ता करना है 9:00 बजे।नाश्ते में आप ओट्स को उबालकर उसमें थोड़ी सी चिया सीड्स चालकर एक बॉल जरूर खाएं अगर आपको फिर भी भूख है, तो पपीता या एप्पल खा सकते हैं।

तकरीबन 11 या 12 के बीच में आपको फिर से भूख लगती है तो आप एक स्मूदी ड्रिंक भी ले सकते हैं जिसमें आप आधा एप्पल एक अखरोट दो बादाम डालकर लिक्विड बनाकर ले सकते हैं।

इसके अलावा आप गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद आधा नींबू और अदरक का रस डालकर यह लिक्विड भी पी सकते हैं

आप चाहे तो 1 हफ्ते में एक या दो बार आप व्हीटग्रास का जूस भी पी सकते हैं यह बहुत ही फायदेमंद है थायराइड की प्रॉब्लम के लिए।

इसके अलावा जब भी आपका मन हो या खाना खाने का ज्यादा मन ना हो तो थायराइड की जो ड्रिंक होती है वह खीरा धनिया पीसकर छान लें और उसमें थोड़ा-सा नींबू डाल कर पिए।

1:00 से 2:00 के बीच में अपना लंच कर लें। लंच में या तो मिक्स अनाज की एक चपाती और सफेद चावल की जगह ब्राउन राइस खाएं अगर आपको अपना वजन भी कम करना है तो दाल की जगह हरी सब्जी खाए, उसमे गाजर, मेथी, पालक की सब्जी, और लो फैट दही ले।

इसके अलावा आप लंच में दाल या चने की दाल की खिचड़ी भी खा सकते हैं।

शाम की चाय में आप दूध वाली चाय ना लेकर ग्रीन टी लें।

नॉर्मल चाय की जगह आप हल्दी की चाय भी ले सकते हैं कच्ची हल्दी को पानी में उबालकर छानकर उसमें अदरक और हनी भी डाल सकते हैं। इस चाय के साथ आप दो बादाम एक अखरोट भी खा सकते हैं।

रात को 8:00 से 9:00 के बीच में अपना डिनर ले ले। ज्यादा लेट करोगे तो वजन बढ़ेगा रात की डाइट में आप ब्राउड ब्रेड का एक मिक्स वेजिटेबल सैंडविच ले सकते हैं या स्टॉप चपाती भी खा सकते हैं। ध्यान रहे रात की 200 कैलोरीज से ज्यादा ना हो।

रात को सोने से पहले अगर भूख है तो आप एक कप टोंड दूध ले सकते हैं विदाउट शुगर।

अंत में एक जरूरी बात अगर आपको थायराइड है, तो इस डाइट के साथ-साथ दवा भी खाएं। दोनों ही मिलकर काम करेंगे तो आपकी प्रॉब्लम जल्दी Cure होगी। इन सभी टिप्स को फॉलो कर इस प्रॉब्लम से छुटकारा पाएं और स्वस्थ हेल्थी लाइफस्टाइल जीऐ।

आपको इस टॉपिक की जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। और साथ ही साथ अपनी हेल्थ से जुड़ी प्रॉब्लम्स को भी शेयर करें, ताकि हम जल्दी ही उनका समाधान बता सके।

Stay fit

Mrs.Jain ( Yoga Expert )

30 Year's of Experience

Read more...

शुक्रिया या शिकायत Meditate to beat Stress

शुक्रिया - ऐ परवरदिगार

मेरी जिंदगी में आने के लिए, हर लम्हे को इतना खूबसूरत बनाने के लिए, तू है तो हर खुशी पर मेरा नाम लिख गया है। शुक्रिया मुझे इतना खुशनसीब बनाने के लिए।

अपने अनुभव से कह रही हूं, जिस दिन आपको शुक्र करना आ जाएगा, उसी दिन आपके जीवन से सारी शिकायते समाप्त हो जाएंगी। आपको किसी का दोष नहीं दिखेगा, जिस दिन उस परवरदिगार का शुक्र करना आएगा।

आप थोड़ा सा तो विचार कीजिए, कि आपके पास क्या नहीं है। भजन करने के लिए भगवान ने तन दिया है, चिंतन करने के लिए भगवान ने मन दिया है। उसी शक्ति ने विचार करने की सामर्थ्य दी है, स्वयं के कल्याण के लिए। इससे अधिक आपको क्या चाहिए। ध्यान रहे जीवन में जो भी प्राप्त है, वही पर्याप्त है। और यह भी याद रहे, कि जीवन में जो भी आवश्यकता से अधिक है वह विष है, वह आपको पीड़ा देगा। एक बार आवश्यकता से अधिक जीवन में संचय करके देखिए, आपके मन का विश्राम समाप्त हो जाएगा।आवश्यकता से अधिक तो बस एक ही चीज अच्छी लगती है, वह है भगवान का भजन, सुमिरन, ध्यान साधना उसकी कोई सीमा नहीं है। लोभ करना है, तो भजन का लोभ करिए। आपको भजन, सुमिरन, उसकी याद कभी पर्याप्त ना लगे। जितना भी याद करो उतना ही अधूरापन लगे।

उसकी याद की कसौटी यही है, कि जितना उसे याद करते चले जाओगे। उतना ही आप भीतर से भरपूर होते चले जाओगे। कबीर जी ने भी कहा...

कागा सब तन खाइयो। चुन चुन खाइयो मांस। दो नैना मत खाइयो,इन्हें पिया मिलन की आस

लोभ हो तो उसकी याद का हो। क्रोध करना है तो अपने मन की चंचलता पर करना है। किसी भी वस्तु को या स्वयं को समाप्त नहीं करना, बल्कि उसका सदुपयोग करना है। पल-पल होश में निकले। इस संसार में कुछ भी निरर्थक नहीं है, केवल एक ही वस्तु निरर्थक है उसका कोई अर्थ नहीं उसका कोई मोल नहीं है। वह है हमारा अभिमान, अपने को मन के हाथों में सौंप देना या सिर्फ मन होकर जीना यही है... जीवन की सबसे बड़ी दुर्घटना।

मन के हाथ लगा जीवन बहुत मनोरोगो और हृदय रोगों का शिकार होता है। बहुत नेगेटिविटीज, बहुत शंकाएं, बहुत डर का अंधेरा पिरोता है। माइंड तनिक मात्र भी चैन नहीं लेने देता। हर पल बेचैनी और तनाव को पैदा करता ही रहता है। इसके लिए आप दूसरों को जिम्मेवार ठहराते हुए दूसरों को दोषी कहते हो। नहीं..... कोई पद प्रतिष्ठा, सामान, सम्मान, संपत्ति, संबंध कोई कारण नहीं है। इस मन के दुखों का कारण तुम स्वयं हो। इस भीतर की बेचैनी का कोई दूसरा कारण नहीं है। तुम स्वयं जुड़े हो, इस माइंड से.... माइंड बहिर्मुखी है माइंड बाहर से Borrow करता है, बाहर से इंपोर्ट करता है। जो जो नेगेटिव है, उसको पकड़ता है। तमाम कचरा इकट्ठा करता है, शिकायतें करता है, शिकवे करता है, अगर तुम थोड़ी देर माइंड से हट जाओ, तो यह शांत मौन मुदित भाव में निरंतर तुम्हारे इशारों पर हो जाता है। कदाचित भी फिर तुम अंधेरों में नहीं रह सकते। आप स्वयं अनुभव लेना भीतर का और फिर भीतर से ही शुक्रिया का भाव उठता है मन कह उठता है....

मुझे अपने आप में, कुछ यूं बसा लो

कि ना रहूं जुदा तुमसे और खुद से

मैं तुम हो जाऊं

Om Namah

व्याकरण संबंधी त्रुटि के लिए मैं क्षमा प्रार्थी हूं।

Thank you so much

Antas Yog by Indu Jain

अगर इन विचारों से आपके जीवन में बदलाव आ रहा है, तो सभी के साथ इन Happy thoughts को शेयर करें, और इस यात्रा में सहभागी बने

Om Guruve Namah

Read more...

तरबूज खाएं वजन घटाएं 5kg तक – जानिए कैसे?

जी हां, गर्मी का मौसम वजन कम करने वालों के लिए बेहतरीन है। अगर आप बहुत ज्यादा ना तो एक्सरसाइज कर सकते हैं, और ना ही डाइट कंट्रोल करना चाहते हैं, तो आपके लिए तरबूज ही काफी है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि तरबूज आपके वजन को कम करने में बेहद मददगार है।

  • यदि आप डाइट पर है, तो अपने खाने से पहले तरबूज 300 ग्राम जरूर खाएं। खाने से पहले तरबूज का सेवन करने से आपका पेट काफी भर जाता है, जिसके बाद आप कम खाना खा पाते हैं और कुछ दिनों तक लगातार ऐसा करने से आपका वजन तेजी से कम होना शुरू हो जाएगा।
  • अगर आपको नमकीन बिस्किट या जंक फूड खाने की बार-बार आदत है तो उसकी जगह आप तरबूज खाने की आदत डालें यह आपकी बॉडी के लिए हेल्दी भी रहेगा और पौष्टिक भी।
  • तरबूज में बहुत कम कैलोरीज होती है आपको हैरानी होगी कि 100 ग्राम तरबूज में सिर्फ 30 कैलोरीज होती हैं और 0% फैट होता है अगर आप अपनी डाइट में तरबूज को daily लेते हैं, तो इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा
  • Workout के दौरान जो भी मांसपेशियों में खिंचाव हो जाता है हम थकान का अनुभव करते हैं, वह सब तरबूज के सेवन से ठीक हो जाता है।
  • तरबूज तरबूज खाने से पेट आराम से भरता है क्योंकि तरबूज में 92% पानी होता है तो आप आराम से इसे खाकर अपना वेट लॉस कर सकते हैं इसमें इतना ज्यादा फाइबर होता है, जिसे खाने से हम और पेट लंबे समय तक पेट भरा भरा महसूस करते हैं।
  • इसको इसको रेगुलर खाने से हम कई प्रकार के हेल्थ प्रॉब्लम से बच सकते हैं जैसे बीपी, कोलेस्ट्रॉल, मोटापा, अपच।
  • इसके इसके सेवन से हमें भरपूर पोषण मिलता है और मोटापा जल्दी कम होता है। बेस्ट वेट लॉस रिजल्ट के लिए इस रात में ना खाकर दिन में ही खाएं।
  • अगर आप अपने बढ़ते वजन को तेजी से कम करने की सोच रहे हैं तो तरबूज को अपनी डाइट में जरूर शामिल कीजिए। क्योंकि यह शरीर में पानी की कमी को पूरा करता है वैसे तो तरबूज के बहुत सारे सेहतमंद लाभ हैं लेकिन यह वजन कम करने में काफी बेहतरीन माना जाता है इसको रेगुलर खाने से वेट लॉस के बहुत अच्छे परिणाम सामने आते हैं।
  • अंत में एक महत्वपूर्ण बात, तरबूज के सेवन के पश्चात जो वेट लॉस होता है तो स्किन टाइटनिंग के लिए हमें थोड़ा सा योगाभ्यास करना होगा जैसे ताड़ासन, तिर्यक ताड़ासन, पश्चिमोत्तानासन, वक्रासन, वृक्षासन, वीरभद्रासन।
  • योग के इन सभी आसनों के अभ्यास से आपका शरीर सुंदर और स्वस्थ बनेगा साथ में मोटापा भी कम होगा हड्डियों में मजबूती आएगी और हीमोग्लोबिन की मात्रा भी बढ़ेगी। और यदि आप बैलेंस डाइट और प्रॉपर वकआउट से बॉडी की स्ट्रैंथ को डिवेलप करते हुए अपने अपनी बॉडी के ऊपर काम करते हैं, तो परिणाम बहुत जल्दी आता है, और वह परिणाम स्थाई होता है।
  • वेट वेट लॉस के अच्छे परिणाम के लिए तरबूज खाने के साथ-साथ आपको अपनी दूसरी डाइट में भी परिवर्तन लाना होगा। जैसे हफ्ते में एक बार मूंग की दाल का पानी या चिल्ला लेना होगा, और साथ में बहुत सारी सलाद खानी होगी। जैसे खीरा, ककड़ी, टमाटर, चुकंदर और फलों में आप Apple और अनार ले सकते हैं। रोटी चावल को थोड़ा सा avoid करना है यानी कि Carbs को कम लेना है, और अगर थोड़े दिन ये Carbs बंद भी कर दोगे, तो कोई फर्क नहीं पड़ेगा जब भी भूख लगे watermelon खाइए और रिजल्ट पाइए।

Thanks

Mrs.Jain ( योग विशेषज्ञ )

Read more...

5 Easy & Effective Exercises To Reduce Side BELLY Fat Fast | Super Exercises by ANTAS YOG

https://www.youtube.com/watch?v=HEegjpy_nkQ&t=26s

पेट और कमर की चर्बी कम करने का आसान तरीका

Best 5 एक्सरसाइज & Tips To Reduce belly fat in HIndi

अगर आपको अपने शरीर में लगातार भारीपन लगता है या बॉडी में laziness रहती है तो सावधान हो जाइए पेट पर थोड़ी बहुत चर्बी होने को सामान्य माना जाता है लेकिन अगर वही चर्बी जरूर से ज्यादा होती है तो हमें कई बीमारियों से जूझना पड़ता है। जैसे पीसीओडी की प्रॉब्लम, हार्मोनल प्रॉब्लम, यूट्रस रिलेटेड कई डिजीज, इसके साथ साथ डिप्रेशन मोटापा और अन्य बीमारियां अपने आप चली आती हैं। इस सभी बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए इस सभी एक्सरसाइज को एक बार अपनी डेली रूटीन में शामिल करके देखिए और अपना अनुभव हमें कमेंट सेक्शन में जरूर शेयर कीजिए।

Thanks

Read more...